कूड़े के समानों से बना है दिल्ली का खूबसूरत पार्क, डीएमआरसी ने किया कमाल, आपने देखा क्या

कूड़े के समानों से बना है दिल्ली का खूबसूरत पार्क, डीएमआरसी ने किया कमाल, आपने देखा क्या

.
  • 2018-07-11
  • Tara Chand

.

The hook desk - देश में कचरे निपटना एक बड़ी समस्या बन गई है। एक हफ्ते पहले हीरे की नगरी के रूप में पहचाने जाने वाला गुजरात के सूरत शहर ने कचरे से निपटने के लिए ऐसा सिस्टम विकसित किया गया था, जो इस लगातार विकराल होती समस्या से निजात दिलाएगा। दिल्ली और मुंबई जैसे शहरों में कूड़े से निपटने के लिए कोई जगह नहीं है। दिल्ली रोजाना 10हजार टन ठोस बेकार चीजें, 30 टन इलेक्ट्रॉनिक चीजें, 70 टन बायोमेडिकल चीजें और 800 टन प्लास्टिक कचरे का उत्पादन करता है।
हालांकि, कचरे के इस बड़े ढेर को रिसायकल करने की प्रक्रिया बेहद मुश्किल है। इसीलिए, दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने बेकार चीजों का सहीं इस्तेमाल किया है। डीमआरसी ने ईस्ट दिल्ली स्थित शास्त्री पार्क में ऐसा पार्क तैयार किया है जहां सारा सामान बेकार चीजों से बनकर लगाई गई है।
42,000 वर्ग मीटर में फैले प्राकृति पार्क में 12 मूर्तियां लगाई गई हैं जो 20-25 टन कचरे से बनी है।  पार्क का उद्धाटन पिछले साल डीएमआरसी के मैनेजर मंगू सिंह और दूसरे बड़े अधिकारी ने किया था। पार्क में उपयोग की जाने वाली लगभग एक तिहाई सामग्री में लोहे स्क्रैप और बेकार चीजें इस्तेमाल हुई है। 
अलग-अलग क्षेत्रों के कलाकारों ने मिलकर पूरे ढांचे को तैयार किया है। डीएमआसी के प्रवक्ता ने बताया, 12 मूर्तियों को 11 भारतीय और एक साउथ कोरियन ने मिलकर बनाया है। पार्क के अंदर पैदल रास्तों को टूटी हुई टाइलें और ग्रेनाइट के उपयोग से तैयार किया है।
शास्त्री पार्क मेट्रो स्टेशन से सटे होने से यात्री मेट्रो से पार्क के खूबसूरत नजारे को देख सकते हैं। प्रवक्ता ने कहा, हमने इको पार्क में पौधों की कुछ दुर्लभ प्रजातियां उगाई हैं। वृक्षारोपण के लिए झाड़ियों और पेड़ की देशी प्रजातियों का उपयोग किया गया है। यहां मौसमी फूल पौधों का भी इस्तेमाल किया जाएगा। 
अगर आपको इस खूबसूरत जगह का दीदार करना है तो आपको दिल्ली मेट्रो रेड लाइन से जाकर शास्त्री पार्क मेट्रो स्टेशन उतरना होगा। ये किसी पिकनिक स्पॉट से कम नहीं। 

Leave A comment

ट्विटर