ये है दुनिया का पहला GIRLS बैंड, कमाई का एक हिस्सा अनाथों को देती हैं

ये है दुनिया का पहला GIRLS बैंड, कमाई का एक हिस्सा अनाथों को देती हैं

.
  • 2018-01-14
  • niharika

.

Thehook desk : आजकल लड़कियां किसी फील्ड में कम नहीं हैं और यही वजह है कि 2017 के इस वीमन्स डे पर हम आपको कुछ ऐसी महिलाओं से मिलवा रहे हैं, जो इंडिया के लिए मिसाल हैं। पार्टीज में लड़कों के बैंड पर थिरकते यूथ तो बहुत देखे होंगे, पर MP की राजधानी भोपाल में पहली बार लड़कियों के बैंड पर थिरक रही है। यहां बात हो रही है लड़कियों के पहले रॉक बैंड 'असावरी' की। 
बैंड में अनुश्री निगोशकर लीड सिंगर हैं, एेश्वर्या श्रीवास्तव लीड  गिटारिस्ट, बिहू पाल बेस गिटारिस्ट और कामना सिंह ड्रमर हैं। इस बैंड के बनने की  कहानी शुरु हुई थी साल 2010 में। यह बैंड कमाई के मकसद से नहीं बल्कि गर्ल्स के पैशन और सोशल कॉज से जुडऩे के लिए बनाया गया है। एेश्वर्या बताती हैं कि बैंड का नाम असावरी रखने के पीछे की वजह है भारतीय राग। असावरी भारतीय शास्त्रीय संगीत में एक राग है और हम सिर्फ सेमी क्लासिकल और इंडियन सांग्स का फ्यूजन करके फ्यूजन रॉक क्रिएट करते हैं। हमारा बैंड अक्सर सोशल कॉज के लिए परफॉर्म करने में विश्वास रखता है।
हाल ही में ब्लैक बिंदी और बेटी बचाओ कैंपेन के लिए कई प्रमोशनल वीडियो तैयार तैयार किए हैं। बिहू बताती हैं, उस समय हम चारों एक ही स्कूल कार्मल कान्वेंट, में पढ़ते थे। दिसम्बर 2010 में  वेकअप किड नाम से एक म्यूजिक कॉम्पीटिशन हुआ, स्कूल प्रबंधन चाहता था कि हम उसमें पार्टिसिपेट करें। चूंकि हम गर्ल स्कूल में थे तो हमारे बैंड की हर मेंबर लड़की ही थी। उस कॉम्पीटिशन में हम तीसरे नंबर पर रहे। बस यहीं से आइडिया आया रॉक बैंड बनाने का। यह बैंड कमाई के मकसद से नहीं बल्कि गर्ल्स के पैशन और सोशल कॉज से जुडऩे के लिए बनाया गया है।  
असावरी बैंड की हर मेंबर के यहां तक पहुंचने के पीछे सबसे बड़ा सपोर्ट हैं उनकी मां का। चारों की मां म्यूजिक लवर्स हैं और उन्हीें के मोटिवेशन के चलते स्कूल टाइम से ही सभी गल्र्स का पहला प्यार म्यूजिक ही था। एेश्वर्या श्रीवास्तव एनएलआईयू से बीए एलएलबी ऑनर्स कर रही हैं। वहीं अनुश्री निगोशकर इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स में, बिहू पाल केमिकल इंजीनियरिंग में और कामना सिंह इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्युनिकेशंस में एलएनसीटी से इंजीनियरिंग कर रही हैं।

Leave A comment

ट्विटर