म्यूजियम की रखवाली नहीं बल्कि,ये सुपर डॉग करता है ऐसे हैरतगंज काम,देख हर कोई है हेरान

म्यूजियम की रखवाली नहीं बल्कि,ये सुपर डॉग करता है ऐसे हैरतगंज काम,देख हर कोई है हेरान

...
  • 2018-01-13
  • Shalu sneha

...

THE HOOK DESK: कुत्तों को हमेशा उनकी वफादारी के लिए जाना जाता है। कहा जाता है कि कुत्तों से ज्यादा वफादार जानवर कोई नहीं होता है। इनकी वफादारी के ही कारण इन पर किसी भी जनवर से ज्यादा भरोसा किया जाता है। ऐसे में बोस्टन म्यूजियम ऑफ फाइन आर्ट्स में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां इंसानो की नहीं बल्कि कुत्तों की भर्ती की जा रही है। 
जी बिल्कुल सही सुना आपने, बोस्टन म्यूजियम ऑफ फाइन आर्ट्स ने कुछ दिन पहले अपने यहां एक अजीबोगरीब भर्ती की है। इस भर्ती के तहत म्यूजियम प्रशासन ने एक रिले नाम को कुत्ते को अप्वाइंट किया। खास बात यह है कि रिले को म्युजिम की सुरक्षा के लिए नहीं बल्कि यहां रखें आर्ट वर्क को कीड़े मकौड़ों से बचान के लिए रखा गया है।    
 
म्यूजियम प्रशासन ने बताया कि उन्हें म्यूजियम में कीड़ो का बहुत डर रहता है। इन कीड़ो की वजह से म्यूजियम में परेशानी हो सकती है। कीड़े मकौड़े म्युजियम में रखे आर्ट वर्क को डैमेज कर सकते हैं। 12 हफ्ते के उम्र के इस डॉग को अपने काम को सही तरीके से करने के लिए ट्रेंड किया गया है। 
इस डॉग के अप्वाइंटमेंट के बाद म्यजिमय प्रशासन ने एक प्रेस कांफ्रेंस की जिसमें रिले के बारे में सभी को बताया गया। डॉग के अप्वाइंटमेंट के बाद म्यूजियम ऑफ फाइन आर्ट ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करके इस अनोखे भर्ती की जानकारी दी है। 

Leave A comment

ट्विटर