स्कूल से लड़कियों को उठवा लेता था गद्दाफी, हरम में रखता था कैद, पीटता था, रेप करता था

स्कूल से लड़कियों को उठवा लेता था गद्दाफी, हरम में रखता था कैद, पीटता था, रेप करता था

...
  • 2017-11-22
  • Shashi Kant

...

THE HOOK DESK लीबिया का तानाशाह मुअम्मर गद्दाफी की खौफनाक और काली करतूतें दुनिया जानती है। गद्दाफी सिर्फ बेरहम ही नहीं था, वो एक अय्याश भी था। वो लड़कियों को अपने हरम में सेक्स स्लेव्स बनाकर रखता था। एक पत्रकार एनिक कोजिन ने इसका जिक्र अपनी किताब ‘डांस ले हरेम डे गद्दाफी’ में किया है। इसका मतलब होता है गद्दाफी के हरम की शिकार।
इस किताब में गद्दाफी के हरम में सालों तक कैद रहने वाली महिलाओं की आपबीती दर्ज है। जिसपर भी गद्दाफी की बुरी नजर पड़ी, वो हमेशा के लिए उसके हरम में कैद हो गई। इस किताब में ‘सोराया’ नाम की लड़की का जिक्र है। सोराया जब 15 साल की थी, तभी गद्दाफी ने उसे सेक्स स्लेव बना लिया था। सोराया ने एक स्कूल में गद्दाफी को गुलदस्ता भेंट किया था। जिसके बाद उसने उसके सिर पर हाथ रखकर इसे स्वीकार कर लिया था। लेकिन उसके बाद सोराया का अपहरण हो गया।
सोराया को जब गद्दाफी के सामने पेश किया गया, उससे पहले उसे काफी प्रताड़ित किया गया। उसके खून की जांच की गई। इस लड़की को गद्दाफी के सामने काफी कम कपड़ों में पेश किया गया। सोराया ने पहले काफी विरोध किया, लेकिन बाद में हार मान ली। किताब के मुताबिक गद्दाफी अपने महल के तहखानों में औरतों और लड़कियों को कैद करके रखता था। उसके साथ रेप करता था, उनको मारता-पीटता था। किताब के मुताबिक लड़कियों को सिर्फ अंत: वस्त्रों में ही गद्दाफी के सामने आना होता था।
गद्दाफी सिर्फ आम महिलाओं और लड़कियों के साथ ही ऐसा नहीं करता था। वो अपने मंत्रियों और विरोधियों की बीवियों और बेटियों के साथ भी ऐसा ही करता था। उनको नीचा दिखाने के लिए। गद्दाफी को रेप करने की लत थी। वो स्कूली लड़कियों को भी नहीं छोड़ता था। किताब के मुताबिक गद्दाफी के पीड़ितों में उसके मंत्री, राजनयिक, सेनाधिकारी और कबायली नेता भी शामिल थे। जिन्हें उनके साथ हमबिस्तर होना पड़ता था।
पत्रकार के मुताबिक गद्दाफी जब लीबिया से बाहर जाता था तो उसके साथ उसके हरम की एक महिला माबरूका शेरिफ होती थी। जो दूसरे देशों में कम उम्र की खूबसूरत लड़कियों और लड़कों का इंतजाम करती थी।

Leave A comment

ट्विटर