इतिहास में पहला मौका होगा, जब सत्ता पक्ष किराया कम करने पर अड़ा है और विपक्ष कम नहीं कर रहा

इतिहास में पहला मौका होगा, जब सत्ता पक्ष किराया कम करने पर अड़ा है और विपक्ष कम नहीं कर रहा

...
  • 2017-10-13
  • Shashi Kant

...

THE HOOK DESK दिल्ली की लाइफ लाइन मेट्रो का किराया बढ़ाने को लेकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी में जुबानी जंग अब सड़कों पर आ गई है। आम आदमी पार्टी किराया बढ़ोतरी का विरोध कर रही है और जगह-जगह प्रदर्शन कर रही है। आम आदमी पार्टी सवाल पूछ रही है कि इतनी जल्दी किराये में बढ़ोतरी क्यों की गई?
इसको लेकर सोशल मीडिया पर खूब चर्चा हो रही है। ज्यादातर यूजर्स बीजेपी के खिलाफ बोल रहे हैं तो कुछ लोग आम आदमी पार्टी को भी इसके लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।
एक यूजर ने लिखा कि दुनिया के इतिहास में पहला मौका होगा, जब सत्ता पक्ष किराया कम करने पर अड़ा है और विपक्ष कह रहा है कि हम तो किराया कम होने ही नहीं देंगे।
एक यूजर ने लिखा कि किराया बढ़ाएंगे, जनता से ज्यादा पैसे लेंगे, विजय माल्या को देंगे, बीजेपी।
एक यूजर ने लिखा कि सरकार विरोध कर रही है और विपक्ष किराया बढ़वा रहा है।
एक यूजर ने लिखा कि जनता के लिए समूचे देश में सिर्फ एक आदमी लड़ रहा है, वो है केजरीवाल। मेट्रो के भाड़ा के मुद्दे पर मोदी की पोल खुली।
एक यूजर ने लिखा कि आय बढ़ाने के लिए आम आदमी पर भार देने की जरूरत नहीं है। दिल्ली जल बोर्ड इसका शानदार उदाहरण है। AAP मेट्रो को बेहतर तरीके से चला सकती है।
एक यूजर ने लिखा कि जब मोदी ने शपथ ली तो देश कई इंडेक्स में फेल हो गया। जब केजरीवाल ने शपथ ली तो दिल्ली कई इंडेक्स में आगे बढ़ा।
दरअसल मेट्रो के किराये में बढ़ोतरी का चारों तरफ विरोध हो रहा है। सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक पर किराया बढ़ोतरी के खिलाफ लोग अपनी राय जाहिर कर रहे हैं।

Leave A comment

ट्विटर