शादीशुदा IPS के अफेयर का खुलासा, पहली पत्नी ने दिये सबूत, दूसरी महिला से एक बेटा भी

शादीशुदा IPS के अफेयर का खुलासा, पहली पत्नी ने दिये सबूत, दूसरी महिला से एक बेटा भी

.
  • 2017-09-10
  • Shashi Kant

.

एक आईपीएस पर शादी के बाद भी दूसरी महिला से संबंध रखने का आरोप है। आईपीएस की पत्नी ने आरोप लगाया है कि उसका पति बिना तलाक के दूसरी महिला के साथ रह रहा है और उसकी एख संतान भी है। पहली पत्नी ने अपने आरोपों को साबित करने के लिए सबूत भी दिये।

आईपीएस अफसर पंकज चौधरी पहली पत्नी सुधा गुप्ता से तलाक लिए बिना दूसरी महिला के साथ रह रहे हैं। विभागीय आयुक्त चतुर्थ रविशंकर श्रीवास्तव की जांच में इसकी पुष्टि हुई है। उनके कृत्य को अखिल भारतीय सेवा आचरण नियमों का उल्लंघन और गंभीर दुराचरण की श्रेणी में माना गया है। जांच के दौरान बचाव करते हुए आईपीएस चौधरी ने दूसरी महिला से संबंध होने से इनकार किया।

जांच के दौरान चौधरी की पहली पत्नी सुधा गुप्ता की ओर से दूसरी महिला से संबंध होने के चार सबूत पेश किए गए। इनमें दूसरी महिला के बेटे के नगर निगम से जारी जन्म प्रमाण-पत्र, बूंदी के जिस स्कूल में वह पढ़ रहा था, उसके प्रवेश रजिस्टर, दूसरी महिला के पिता की पेंशन में परिवार के सदस्यों की सूची और संतोकबा दुर्लभजी मेमोरियल अस्पताल में उसके जन्म का जिक्र किया है।

इन चारों दस्तावेजों में दूसरी महिला के बेटे के नाम के आगे पंकज चौधरी लिखा हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि दूसरी महिला के बेटे के पिता पंकज चौधरी होने के संकेत मिलते हैं।

यह भी पाया गया कि चौधरी ने सुधा गुप्ता के आचरण को भ्रष्ट साबित करने के लिए अनेक गवाह और पत्र प्रेषित किए, जिसका मामले से कोई संबंध नहीं है। इसे केवल द्वेषपूर्ण शिकायत माना गया। इससे पहले पुलिस जांच में भी दूसरी महिला से संबंध रखने की पुष्टि हुई थी, जिसके आधार पर उन्हें चार्जशीट दी गई थी। इसके बाद विभागीय जांच कराई गई।

विभागीय आयुक्त रविशंकर श्रीवास्तव ने जांच रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंपी तो आईपीएस चौधरी ने फिर तीखे तेवर अपना लिए। पहले तो मुख्य सचिव को पत्र लिखकर अपनी जांच से श्रीवास्तव को हटाने की मांग की। इसके बाद सोशल मीडिया पर भ्रष्ट होने का अभियान चलाया। केंद्रीय सतर्कता आयोग से भी श्रीवास्तव के भ्रष्टाचार की जांच कराने की मांग कर दी।

चौधरी बिना तलाक के दूसरे महिला से संबंध और उससे पुत्र होने के आरोप को सिरे से नकारते रहे हैं। जानकारों का कहना है कि अगर राज्य सरकार की ओर से डीएनए जांच कराई जाए तो पूरा सच सामने आ जाएगा।

टिप्पणी

  • RAMMANiSH SiNGHi

    10-09-2017

    DEST - NEWDELHi STATE - UTTAR PERADESH. CHiF GEST OFFiCER. NAME - DiGViJAY SiNGH. SiNER CiSF COMMANDANT FORCE OFFiCER. iNDERA GANDRA iNTERNATiNAL AiRPO

  • RAMMANiSH SiNGHi

    11-09-2017

    MY. ADDRESS. NAME - RAMMANiSH SiNGH. C/. DR. THAKUR K K SiNGH. JAiPRAKASH COLONY MADHUBANi.

  • RAMMANiSH SiNGHi

    11-09-2017

    PAPA B.S.N.L.MOBiLE PHONE - 09431866164. MAMi B.S.N.L.MOBiLE PHONE - 09431269164

Leave A comment

ट्विटर