मुंबई जहां हर कोई पोटली में अपने ख्वाब लेकर पहुंचता है, 100 साल पहले ऐसी दिखती थी मुंबई

मुंबई जहां हर कोई पोटली में अपने ख्वाब लेकर पहुंचता है, 100 साल पहले ऐसी दिखती थी मुंबई

.
  • 2017-08-29
  • Ritesh Kumar

.

THE HOOK DESK : मुंबई जहां हर कोई पोटली में अपने ख्वाब लेकर पहुंचता है। एक ऐसी मायानगरी, जिसका नाम सुनते ही दिलोदिमाग पर चकाचौंध छा जाती है। लेकिन ब्रिटिश इंडिया से लेकर अब तक के सफर में इस शहर ने कई दौर देखे।
हम आपको आज मुंबई की पुरानी तस्वीरों के जरिए इतिहास को फिर से आपके सामने ला रहे हैं। उस वक्त के मुंबई शहर के रेयर फोटोज - 
1873 में मुंबई में अनाज की दुकानें।

1900 में ऐसा दिखता था होटल ताज महल पैलेस।

मुंबई का एलफिन्स्टन कॉलेज।

1920 में ऐसी होती थी कपड़ों की दुकाने।

1890 में ऐसी थी मुंबई की बिल्डिंग।

1880 में ऐसे थे मुंबई के व्यस्ततम इलाके।

मुंबई का चोर बाजार।

1873 में सुनारों का एक समूह अपना काम करता हुआ।

1873 में मराठी बच्चों को पढ़ाते मास्टर।

मुंबई के नाविक।

1920 मुंबई की सड़को पर पैर साफ करता एक व्यक्ति।

1939 गेट वे ऑफ इंडिया पर एक सपेरा खेल दिखाता हुआ।

मुंबई की सड़को पर काम करता नाई।

1870 में ऐसा था विक्टोरिया स्टेशन।

वॉटसन होटल 1880।

1873 बाजार में लकड़ी के बॉक्स बनाने वाले।

Leave A comment

ट्विटर