सुब्रत रॉय को मिली 10 दिन की मोहलत

सुब्रत रॉय को मिली 10 दिन की मोहलत

THE HOOK DESK सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय को 10 दिन की मोहलत मिल गई है। लेकिन अभी भी उनपर जेल जाने की तलवार लटक रही है। अगर तय वक्त पर पैसे नहीं जमा किये तो जेल जाना तय है।
  • 2017-06-19
  • Shashi Kant

THE HOOK DESK सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय को 10 दिन की मोहलत मिल गई है। लेकिन अभी भी उनपर जेल जाने की तलवार लटक रही है। अगर तय वक्त पर पैसे नहीं जमा किये तो जेल जाना तय है।

सुप्रीम कोर्ट ने सुब्रत रॉय सहारा को 10 दिनों के भीतर 709.82 करोड़ रुपये जमा करने के लिए कहा है। इसके साथ ही सुब्रत रॉय की पैरोल की अवधि 5 जुलाई तक के लिए बढ़ा दी है।

दरअसल समूह को 15 जून तक सहारा-सेबी खाते में 1500 करोड़ रुपये जमा करने का निर्देश दिया गया था। लेकिन समूह की ओर से इस अवधि तक 790.18 करोड़ रुपये ही जमा कराए गए। पीठ ने इसपर कड़ी आपत्ति जताई। लेकिन इसके साथ ही 10 दिन की और मोहलत दे दी है। लेकिन इसके साथ ही कोर्ट ने साफ कह दिया कि अगर तय वक्त पर पैसा नहीं जमा हुआ तो सहारा प्रमुख को जेल जाना पड़ेगा।

इससे पहले सहारा प्रमुख के वकील ने कोर्ट ने बाकी पैसे जमा कराने के लिए 10 दिन की मोहलत मांगी थी। सुनवाई के दौरान समूह की ओर से बताया गया कि वह लंदन के ग्रॉसवेन हाउस होटल में अपने शेयर को बेच रहा है और 10 दिनों में यह रकम उसके पास आ जाएगी।

सहारा समूह ने पीठ से हरिद्वार स्थित रानीपुर में 87.03 एकड़ जमीन को सर्किंल रेट से 38 फीसदी कम कीमत पर बेचने की अनुमति मांगी। जिस पर पीठ ने कहा कि सर्किल रेट से कम पर बेचने की कैसे इजाजत दी जा सकती है। जवाब में समूह ने कहा कि पूर्व में भी सर्किल रेट से 10 फीसदी कम कीमत पर बेचने की अनुमति दी गई थी। इस पर पीठ ने सेबी से कहा कि वह इस संपत्ति की नीलामी सर्किल रेट से 10 फीसदी कम में कर सकती है।

पिछली सुनवाई में सहारा ने दो पोस्ट डेटेड चेक दिए थे। पहला चेक 1500 करोड़ रुपये का था जबकि दूसरा 552 करोड़ रुपये का। सहारा प्रमुख ने पीठ को आश्वास्त किया था कि 1500 करोड़ रुपये की पहली खेप 15 जून तक जमा हो जाएगी। जबकि 552 करोड़ रुपये 15 जुलाई तक जमा कर दिए जाएंगे।

Leave A comment

ट्विटर