पलक झपकते ही तबाह हो गया था पूरा शहर, खुदाई में दिखा ये मंजर

पलक झपकते ही तबाह हो गया था पूरा शहर, खुदाई में दिखा ये मंजर

THEHOOK DESK: 2 हजार साल पहले एक झटके में तबाह हुए रोमन शहर पॉम्पी की ऐसी दर्दनाक सच्चाई सामने आएगी किसी ने सोचा न था। ज्वालामुखी की राख में दबे इस शहर के बारे में लोगों को पता ही नहीं चलता, अगर इस हादसे में बचे शख्स ने इसका जिक्र नहीं किया होता।
  • 2017-01-11
  • Ruby Sarta

THEHOOK DESK: 2 हजार साल पहले एक झटके में तबाह हुए रोमन शहर पॉम्पी की ऐसी दर्दनाक सच्चाई सामने आएगी किसी ने सोचा न था। ज्वालामुखी की राख में दबे इस शहर के बारे में लोगों को पता ही नहीं चलता, अगर इस हादसे में बचे शख्स ने इसका जिक्र नहीं किया होता।

खुदाई के दौरान दुनिया के नक्शे से गायब हो चुके इस शहर की खौफनाक तस्वीरें सामने आई थीं। 1738 में आर्कियोलॉजिस्ट्स ने गायब हो चुके पॉम्पी शहर को खोज निकाला था। खुदाई के दौरान का मंजर काफी खौफनाक था। 30 फीट मिट्टी और राख के नीचे लोगों की लाशें प्लास्टर के अंदर जमी हुई थीं। जब माउंट वेसुवियस में विस्फोट हुआ, शहर छोड़कर भाग नहीं पाए, वो सब मारे गए। कई सालों से चले आ रहे खुदाई के काम के बावजूद, आज भी जब-तब कोई न कोई लाश मिलती ही रहती है। कहते हैं कि दुनिया ने इस शहर को भुला दिया था लेकिन इस हादसे में बच गए प्लिनी नाम के शख्स के भेजे लेटर से इसका पता चला था। करीब 250 सालों से ये जगह टूरिस्ट्स के लिए अट्रैक्शन पॉइंट बनी हुई है।
खुदाई के दौरान जब भारी संख्या में लोगों की बॉडीज मिली थी, तब अंदाजा लगाया गया था कि ज्वालामुखी से निकलने वाले जहरीले गैस से लोगों की मौत हुई होगी। लेकिन जब इन बॉडीज पर रिसर्च किया गया, तब पता चला कि इन सबकी मौत राख की गर्मी से हो गई थी। इसका मतलब है कि जब ये लोग राख के अंदर दबे थे, तब वो जिंदा थे। इतनी गर्मी इनकी बॉडी बर्दाश्त नहीं कर पाई और तड़प-तड़प कर सबकी जान चली गई।
राख में दबने के बाद जब बारिश हुई होगी, तब इन सब लोगों की बॉडी सीमेंट जैसे कवच के अंदर जम गई होगी। अब तक यहां से एक हजार से ज्यादा बॉडीज मिले हैं। अंदाजा लगाया जाता है कि अभी भी इस शहर की मिटटी के अंदर कई लाशें दफन हैं। खुदाई में मिली बॉडीज की अभी तक जांच की जा रही है। इस पूरे हादसे पर फिल्म भी बन चुकी है।

Leave A comment

ट्विटर