खूब मनाया जाता है जवानी का जश्न, तरीके देखकर मानेंगे नहीं आप..

खूब मनाया जाता है जवानी का जश्न, तरीके देखकर मानेंगे नहीं आप..

Thehook desk : मां-बाप के लिए बच्चों का पहला बर्थडे खास होता है तो वहीं बच्चे अपने सोलहवें बर्थडे का बेसब्री से इंतजार करते हैं। मगर जापान में हर साल 20वां बर्थडे खास होता है। इसका जश्न एक घर में नहीं बल्कि सड़कों पर मनाया जाता है।
  • 2017-01-10
  • niharika

Thehook desk : मां-बाप के लिए बच्चों का पहला बर्थडे खास होता है तो वहीं बच्चे अपने सोलहवें बर्थडे का बेसब्री से इंतजार करते हैं। मगर जापान में हर साल 20वां बर्थडे खास होता है। इसका जश्न एक घर में नहीं बल्कि सड़कों पर मनाया जाता है।

 असल में जापान में हर साल 'कमिंग ऑफ एज' डे मनाया जाता है। टीनेजर्स अपने 20 साल के होने पर इस जश्न में हिस्सा लेते हैं। मकसद सिर्फ इतना है कि उन्हें बताया जा सके कि वह अब बड़े हो चुके हैं। उनकी जिम्मेदारियां भी बढ़ गई हैं।
कमिंग ऑफ एज सेरिमनी स्थानीय सरकारी दफ्तरों में आयोजित किया जाता है। साथ ही कुछ लोग इस सेरिमनी के बाद घरों में 'आफ्टर पार्टी' भी करते हैं।कमिंग ऑफ एज सेरिमनी जापान में 710 ईसवी से मनाया जा रहा है। हालांकि पहली बार साल 1948 में इसे सेलिब्रेट करने के लिए छुट्टी दी गई थी। अब यह हर साल मनाया जाता है। सेरिमनी पहले हर साल 15 जनवरी को मनाई जाती थी लेकिन साल 2000 के बाद इसे जनवरी के दूसरे सोमवार को आयोजित किया जाने लगा।जो युवा बीते साल 2 अप्रैल से इस साल 1 अप्रैल के बीच अपना 20वां जन्मदिन मनाते हैं उन्हें इस सेरिमनी के लिए इनवाइट किया जाता है।इस मौके पर लड़कियां जापान की ट्रेडिशनल ड्रेस 'किमोनो' पहनती हैं।लड़के आमतौर पर 'हकामा' नाम की ट्रेडिशनल ड्रेस पहनते थे लेकिन आजकल इसकी जगह कोट-पैंट ने ले ली है।

Leave A comment

ट्विटर