मैं तो बस एक खिलाड़ी हूं, असली हीरो तो सीरिया के ये बच्चे हैं

मैं तो बस एक खिलाड़ी हूं, असली हीरो तो सीरिया के ये बच्चे हैं

 THE HOOK DESK: पिछले कई सालों से सीरिया युद्ध की त्रासदी से जूझ रहा है। सीरिया के सबसे बड़े शहर अलेप्पो में भीषण बमबारी के बीच लोग जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे हैं।
  • 2016-12-26
  • Ruby Sarta

THE HOOK DESK: पिछले कई सालों से सीरिया युद्ध की त्रासदी से जूझ रहा है। सीरिया के सबसे बड़े शहर अलेप्पो में भीषण बमबारी के बीच लोग जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे हैं।

दहशत का आलम ये था कि यहां फंसे कई लोग बमबारी के बीच अपने आखिरी संदेशों को सोशल मीडिया के द्वारा लोगों तक पहुंचाने लगे थे। इस त्रासदी से सीरिया के बच्चे भी अछूते नहीं है और जिस उम्र में इन बच्चों को खेलना चाहिए, उस उम्र में वे भूख से बिलख रहे हैं, पढ़ने-खेलने के लिए गलियां, सड़कें, स्कूल सब बर्बाद हो चुके हैं और अब इन दुश्वारियों के बीच संघर्ष ही इनके लिए सबसे बड़ा खेल बना।
 
सीरिया को बचाने के लिए कई मानव अधिकार से जुड़ी संस्थाएं सामने आई, लेकिन युद्ध की मा्र इतनी भयानक है कि इन संस्थाओं के प्रयास नाकाफ़ी नज़र आते हैं। इस बीच दुनिया के कुछ प्रभावशाली और लोकप्रिय सेलेब्रिटीज़ भी सीरिया की मदद के लिए आगे आए।
  
दुनिया के सबसे मशहूर फुटबॉलर्स में शुमार, क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने सीरिया के लोगों से मज़बूती के साथ संघर्ष करते रहने की अपील की है। क्रिस्टियानो का बचपन भी काफी मुश्किलों में गुजरा था और सुपरस्टार बनने के सफर में उन्हें कई कठिनाईयों का सामना करना पड़ा था। रोनाल्डो जानते हैं कि सीरिया के बच्चे और वहां के लोगों की परेशानियों के आगे उनकी दिक्कतें कुछ भी नहीं।
रोनाल्डो ने अपने इस संदेश में कहा है कि मुझे मालूम है कि सीरिया के लोग गंभीर परेशानियों का सामना कर रहे हैं, मैं भले ही एक मशहूर इंसान हूं लेकिन असल मायनों में आप लोग ही असल जिंदगी के हीरो हैं, उम्मीदों का दामन मत छोड़िए। ये दुनिया आपके साथ है और आपकी परवाह करती है. मैं आपके साथ हूं। उम्मीद है रोनाल्डो का ये संदेश बाकी प्रभावशाली लोगों को प्रेरित करेगा और सीरिया के हालातों में बेहतरी आएगी. उम्मीद पर दुनिया कायम है।  

Leave A comment

ट्विटर